- संपादकीय

 मां-बाप की लाशों के पास करीब 40 घंटे तक तीन साल की बच्ची घर में अकेली बैठी रही

अहमदनगर: मोबाइल के हुए झगड़े के बाद पति ने गला दबाकर पत्नी की हत्या कर दी और बाद में खुद भी फंदे से झूल गया. मां-बाप की लाशों के पास करीब 40 घंटे तक तीन साल की बच्ची घर में अकेली बैठी रही और किसी को वारदात का पता नहीं चला. 40 घंटे बाद जब बच्ची का नाना घर पहुंचा तो मामले का खुलासा हुआ. अकोले निवासी प्रकाश निवृत्ती बंदावणे (33) पत्नी चित्रा बाबू राजपूत के साथ अकोले के धुमालवाडी रोड पर सार्थक बंगले में रहते थे. घटना वाली रात पति – पत्नी में मोबाइल को लेकर झगड़ा हो गया.

झगड़ा सुबह हुआ था और शाम को प्रकाश के घर पहुंचने पर दोनों फिर लडऩे लगे. झगड़ा इतना बढ़ गया कि मारपीट की नौबत आ गई. प्राथमिक जांच में पता चला कि पहले तो प्रकाश ने चित्रा का  गला दबाकर हत्या की फिर खुदकुशी कर ली. दोनों जब झगड़ रहे थे तब घर में उनकी बेटी भी थी. मां-बाप की लाशों के पास करीब 40 घंटे बच्ची बैठी रही और घर में जो खाना पड़ा था उसी को खाती रही. घटना के काफी देर बाद जब बच्ची के नाना घर पहुंचे तो वारदात का खुलासा हुआ.

घर के बाहर लगा था ताला

दरअसल घटना वाले दिन सुबह जब प्रकाश काम पर गया था तो वे घर को बाहर से ताला लगा गया था. शाम को भी वे खिड़की से घर में दाखिल हुआ था. ताला लगा होने के कारण बच्ची घर से बाहर भी नहीं जा सकती थी.

About www.bulandkhabar.in

Read All Posts By www.bulandkhabar.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *