छत्तीसगढ़ में भी ग़रीबों को ‘कोरोना भत्ता’ देना चाहिये : डा. रमन

राज्य

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कोरोना महामारी के परिप्रेक्ष्य में छत्तीसगढ़ में भी ग़रीबों और ज़रूरतमंदों के लिये कोरोना भत्ता देने का आग्रह किया है।

डा. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री जी का राष्ट्र के नाम संबोधन मानवता और भारतीय नागरिकों के प्रति उनकी अगाध संवेदनशीलता का प्रतीक है। डॉ. सिंह ने कहा कि इस महामारी से सुरक्षा के प्रति भारतीय जनमानस को सतर्क करने के साथ ही प्रधानमंत्री ने आम  मध्यमवर्गीय और ग़रीब-मज़दूर परिवारों की आर्थिक दिक़्क़तों पर भी सरकारों व निजी क्षेत्रों के प्रतिष्ठानों का ध्यान आकृष्ट किया है, जिस पर सबको अमल करना चाहिए।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री की भावनाओं के अनुरूप उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने भी कोरोना संक्रमण के इस संकटकाल में दैनिक कामकाज पर पड़ रहे प्रतिकूल असर से ग़रीब मज़दूरों की बढ़ती आर्थिक दिक़्क़तों को ध्यान में रखकर ग़रीब-मज़दूरों के लिए विशेष भत्ता देने का फ़ैसला किया है। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार को भी संकट की इस घड़ी में प्रदेश के ग़रीब-मज़दूरों के लिए आर्थिक मदद की दृष्टि से एेसे ही विशेष भत्ता की घोषणा करनी चाहिए ताकि कामकाज पर पड़ रहे प्रतिकूल असर के चलते उन्हें परिवार के भरण-पोषण में अार्थिक तौर पर राहत मिल सके।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वार प्रधानमंत्री श्री मोदी के संबोधन के बाद यह आश्वस्त किया जाना अच्छी बात है कि प्रदेश सरकार कोरोना के मुक़ाबले में केंद्र सरकार के साथ है। सरकार को मध्यमवर्गीय व ग़रीब-मज़दूर परिवारों के प्रति श्री मोदी की भावनाओं व संवेदना का सम्मान करते हुए यह विशेष भत्ता स्वीकृत करना चाहिए।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. सिंह ने प्रदेश के सभी निजी क्षेत्र के प्रतिष्ठानों व अन्य सभी बड़े कारोबारियों से भी अपील की है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की भावना व संवेदना का मान रखते हुए कोरोना-संकट की इस घड़ी में सुरक्षा के लिए जूझते कर्मचारियों व ग़रीब-मज़दूरों को उनकी अनुपस्थिति के बावजूद पूरे वेतन व पारिश्रमिक का भुगतान करें, ताकि वे किसी तरह की अनचाही आर्थिक दिक्कत में न फँसें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *