बृजमोहन ने कहा नगरीय निकाय चुनाव में पराजय के भय से घबराई हुई है प्रदेश की कांग्रेस सरकार!

छत्तीसगढ़

रायपुर/30/11/2019/ नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा से धमतरी प्रभारी पूर्व मंत्री व रायपुर दक्षिण विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने धमतरी में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। बैठक में श्री अग्रवाल ने नगरीय निकाय चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं को चार्ज किया। उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ताओं की दृष्टि से बेहद अहम चुनाव है। जिसे हर हाल में जीतना है।

बृजमोहन ने कहा कि भाजपा का हर कार्यकर्ता जनप्रतिनिधि बनने लायक है। इस निगम चुनाव में भी हर सक्रिय कार्यकर्ता चुनाव लड़ना चाहता है। परंतु हमारी मजबूरी है कि एक वार्ड से एक ही को टिकट दिया जाएगा। ऐसे में पार्टी का यह निर्णय सभी को स्वीकार करना होगा और कमल फूल को प्रचंड मतों से जिताने ताकत लगानी होगी।
अग्रवाल ने आज भाजपा कार्यालय गोविंद सारंग भवन में 3 बैठके ली। पहली कार्यकर्ताओं के साथ फिर भाजपा जिला तथा मोर्चा प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों उसके बाद जिला कोर ग्रुप के साथ बैठे और चुनावी रणनीतियों पर चर्चा की तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। वे धमतरी जिले के 5 नगर पंचायत नगरी, मगरलोड,भखारा,कुरूद,आमदी के संबंध में भी चर्चा की। बैठक में जिला भाजपा अध्यक्ष शशि पवार, विधायक रंजना साहू,अर्चना चौबे,इंदर चोपड़ा,निरंजन सिन्हा,सरला जैन,श्रवण मरकाम,रघुनंदन साहू, निर्मल बरडिया,नागेंद्र शुक्ला,महेंद्र पंडित मौजूद थे।

जिला पदाधिकारियों की बनेगी 10 कमेटी,सीघ्र देंगे 40 वार्डों की रिपोर्ट
श्री अग्रवाल ने धमतरी नगर निगम के सभी 40 वार्डों में जीत सुनिश्चित करने के प्रयासों के तहत जिताऊ प्रत्याशी तय करने के उद्देश्य से वरिष्ठजनों के नेतृत्व में कमेटी बनाकर सीघ्र एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। इस कमेटी में 3 से 4 सदस्य होंगे।

प्रदेश के साथ ही नगर निगम,नगर पंचायत के अलग से जारी होंगे घोषणा पत्र
बैठक में श्री अग्रवाल ने नगर निगम धमतरी और नगर पंचायत नगरी,मगरलोड,भखारा,कुरूद,आमदी के लिए अलग से घोषणा पत्र बनाने की बात कही। इसके लिए भी एक कमेटी बनाने के निर्देश जिला संगठन को उन्होंने दिये। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश का घोषणा पत्र बन रहा है।कोई सुझाव चाहे तो दे सकते है। 4 दिसंबर की बैठक में प्रदेश के घोषणा पत्र को अंतिम रूप दिया जाएगा।

नगरीय निकाय चुनाव में पराजय के भय से घबराई हुई है प्रदेश की सरकार
बैठक में बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार नगरीय निकाय चुनाव में पराजय के भय घबराई हुई है। बीते 1 साल में इस सरकार में ऐसा कोई उल्लेखनीय काम नहीं किया की जनता के बीच जाकर वोट मांग सकते। शहर से गांव तक विकास के काम रुके पड़े है। जनता की भावनाओं को इस कांग्रेस सरकार ने भाग लिया है।
इसीलिए उन्होंने नगरी निकाय चुनाव मैं जनता के अधिकार कम कर दिए। महापौर और अध्यक्ष के लिए जनता सीधे वोट करती थी परंतु अब केवल पार्षद के लिए ही वे मतदान कर सकेंगे।

बृजमोहन ने कहा कि चुनाव में निश्चित रूप से सत्ता का दुरुपयोग होगा। पार्षदों में से ही महापौर बनना है, ऐसे में खरीद-फरोख्त होगी। महापौर-अध्यक्ष बनने वाला व्यक्ति भी हमेशा दबाव में काम करता रहेगा।
उन्होंने कहा कि या सरकार जनता की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी है। जितने वादे किए एक भी वादे पूरे नहीं किए हैं। युवाओं को 2500 रुपये बेरोजगारी भत्ता का वादा,गंगाजल हाथ में लेकर पूर्ण शराबबंदी का वादा और 25 रुपये क्विंटल में धान खरीदने का वादा प्रदेश सरकार पूरा नहीं कर रही है। यह बात हमें जनता के बीच में लेकर जाना है और कांग्रेस की वादाखिलाफी की बात को जन-जन तक पहुंचाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *