लाॅकडाउन के दौरान काॅलेज छात्रों को खाद्यान्न और जरूरी सहायता मिली

छत्तीसगढ़

कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम के लिए किए देशव्यापी लाॅकडाउन के दौरान मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि लाॅकडाउन के दौरान किसी भी व्यक्ति को भोजन, खाद्यान्न और रोजमर्रा की जरूरी चीजों का अभाव नहीं होना चाहिए। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार दंतेवाड़ा जिला प्रशासन द्वारा जरूरतमन्द लोगों को सामाजिक संगठनों, स्वयंसेवी संस्थाओं, कर्मचारी संगठनों तथा अन्य दानदाताओं के सहयोग से राशन तथा अन्य खाद्य सामग्री निःशुल्क प्रदान किया जा रहा है।
जिला प्रशासन ने इस दिशा में जिला स्तरीय खाद्यान्न बैंक स्थापित किया है।इसके साथ ही एनएमडीसी बचेली और किरन्दुल परियोजना द्वारा भी जिला प्रशासन के साथ समन्वय कर निर्धन, जरूरतमन्द लोगों को खाद्यान्न एवं अन्य जरूरी खाद्य सामग्री प्रदान किया जा रहा है। इसी कड़ी में एनएमडीसी बचेली परियोजना द्वारा शासकीय दंतेश्वरी पीजी कॉलेज दन्तेवाड़ा के 15 छात्र-छात्राओं को निःशुल्क राशन तथा अन्य खाद्य सामग्री प्रदान किया गया। इस दौरान कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा और सीईओ जिला पंचायत  सच्चिदानंद आलोक सहित उप महाप्रबंधक बचेली  सुनील उपाध्याय ने इन छात्र-छात्राओं से रूबरू होकर उनकी दिक्कतों के बारे में पूछा और संकट की घड़ी में हरसंभव मदद देने के लिए इन छात्र-छात्राओं को आश्वस्त किया। वहीं उन्हें धैर्य के साथ लॉक डाउन का पालन करने सहित अपने बीच में सोशल डिस्टेंस बनाकर रखने एवं मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करने की समझाईश दी।
एनएमडीसी बचेली द्वारा उक्त छात्र-छात्राओं को एक क्विंटल चावल,25 किलोग्राम दाल,25 किलोग्राम शक्कर,30 किलोग्राम आटा,100 नग नहाने का साबुन, 100 नग कपड़ा धोने का साबुन,30 पैकेट बिस्किट और पच्चीस-पच्चीस पैकेट हल्दी, मिर्च, धनिया, मसाला प्रदान किया गया। इस दौरान बीकॉम फाइनल ईयर में अध्ययनरत रायपुर निवासी प्रियंका प्रधान, एमएससी बॉटनी फाइनल ईयर में पढ़ने वाले चारामा निवासी दीपक कुमार एवं धमतरी निवासी संतकुमार,बीए प्रथम वर्ष में अध्ययनरत रायगढ़ निवासी पूनम चन्दसेना, एमए राजनीतिशास्त्र फाइनल ईयर में पढ़ने वाले बीजापुर निवासी कृष्णा झाड़ी एवं केशकाल निवासी रुपेन्द्र संघोरिया, एमएससी केमेस्ट्री फाइनल ईयर में अध्ययनरत भोपालपटनम निवासी केजी महेन्द्र ने बताया कि वे सभी परीक्षा की तैयारी कर रहे थे और इस बीच लॉक डाउन घोषित होने के कारण अपने घर नहीं जा पाये। जिला प्रशासन द्वारा उनकी दिक्कतों को देखकर ग्राम पंचायत चित्तालंका के माध्यम से निःशुल्क राशन और अन्य जरूरी खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के साथ ही अब पुनः उन्हें एनएमडीसी बचेली के जरिये सहायता प्रदान किया गया है। इन छात्र-छात्राओं ने इस विषम परिस्थिति में जिला प्रशासन तथा एनएमडीसी बचेली का सहायता प्रदान करने के लिये कृतज्ञता प्रकट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *