प्रदेश सरकार कोरोना की रोकथाम और परीक्षण के प्रति बेहद ग़ैर ज़िम्मेदाराना रवैए का परिचय दे रही : भाजपा

राज्य

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में 24 घंटों के भीतर 25 नए कोरोना संक्रमितों का मिलना बेहद गंभीर मामला है। इससे यह साफ पता चल रहा है कि प्रदेश सरकार कोरोना की रोकथाम और परीक्षण के प्रति बेहद ग़ैर ज़िम्मेदाराना रवैए का परिचय दे रही है।  श्रीवास्तव ने कोरोना संक्रमितों के आँकड़ों को लेकर प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर निशाना साधा है और इसे सरकार की विफलता बताया है।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के जो लगातार दावे करती आ रही थी, इन नए मामलों ने उन तमाम हवा-हवाई दावों को झूठा साबित कर दिया है। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रोज कोरोना नियंत्रण की शेखी बघारते नहीं थक रहे थे और इसके लिए झूठी वाहवाही बटोरने में लगे थे। दरअसल प्रदेश के मुख्यमंत्री का फोकस कोरोना की रोकथाम और परीक्षण पर कम, केंद्र सरकार से हर दूसरे दिन पैसे मांगने और गाहे-बगाहे केंद्र सरकार को कोसने की सियासी लफ्फाजियों पर ज़्यादा है। श्रीवास्तव ने कहा कि आधी-अधूरी इच्छाशक्ति और तैयारियों के साथ कोरोना के ख़िलाफ जारी जंग को संक्रमण के नए मामलों और खतरों की नई आशंकाओं में धकेलने के बाद भी मुख्यमंत्री को झूठ की राजनीति पर ज़रा भी अफसोस नहीं  हैं।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता  श्रीवास्तव ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के तमाम उपायों में, प्रवासी मजदूरों की वापसी के मामले में और लॉकडाउन में फँसे प्रभावित परिवारों की सहायता के मामले में प्रदेश सरकार सिवाय ओछी राजनीति करने और कोई सार्थक काम नहीं किया है। कोरोना पर नियंत्रण के सरकारी दावों का सच पिछले 24 घंटों में प्रदेश और देश के सामने आ गया है। श्रीवास्तव ने कहा कि जो प्रदेश सरकार केन्द्र से अपने फैसले खुद लेने की आज़ादी मांग रही है, वह बदनीयती, कुनीतियाँ, सोच-समझ से शून्य नेतृत्वहीन सरकार छत्तीसगढ़ को आशंकाओं के गर्त में धकेलने पर आमादा नज़र आ रही है। श्रीवास्तव ने कहा कि एक ओर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रदेश में कोरोना संकट के बढ़ने की आशंका जता रहे हैं और स्थितियों को गंभीर बता रहे हैं, वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री सब कुछ काबू में होने का दावा कर बगलें बजा रहे हैं। मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के विरोधाभासी बयानों से भ्रम फैल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *