Xiaomi का 35% हिस्सा ही है चीनी, बाकि के 65% है भारतीय, बहिष्कार करने से पहले जान लीजिये यह अहम बाते !

व्यापार
जब से भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव बढ़ा है तब से ही सोशल मीडिया पर चीनी सामान को बहिष्कार करने की आवाज़ उठ रही है |चीनी कंपनी शाओमी के बारे में लोग काफी कुछ बोल रहे है और इस कंपनी का मोबाइल बहिष्कार करने की बात कर रहे है | आपको बता दे की भारत में  सबसे अधिक मोबाइल शाओमी कंपनी के ही बिकते हैं।
दरहसल बात यह है की भारत में शाओमी के एमडी मनु जैन कहते हैं कि इस बहिष्कार की भावना ने ना तो कंपनी को कुछ  नुकसान पहुचाया है |और ना ही आने वाले समय में कुछ ज्यदा प्रभावित करेगा | सोशल मीडिया पर एक भीड़ की मानसिकता, गुस्सा देखने को मिल जाएगा, लेकिन ये सब कंपनी के बिजनेस को प्रभावित नहीं करेगा। मनु जैन कहते हैं कि उनकी चीनी होने से कहीं अधिक भारतीय है।
उन्होंने आगे यह भी बताया की यहाँ की कंपनी में बनने वाले सभी स्मार्टफोन और स्मार्ट टीवी में औसतन 65 फीसदी कंपोनेंट लोकल मार्केट का होता है|  और इसकी लीडरशिप पूरी तरह भारतीय है | इससे करीब 50 हज़ार लोगो को रोज़गार मिला है |मनु जैन ने यह भी कहा की भारतीयों का 100 फीसदी डेटा भारत में ही रहता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *