चीनी कंपनियों को छत्तीसगढ़ लाने का सपना तो रमन सिंह ने देखा था : कांग्रेस

राज्य
रायपुर/28 जून 2020। प्रदेश कांग्रेस के संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि चीन से दोस्ती दिखाने की बारी आती है तो भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्रियों का कोई जवाब नहीं लेकिन वे आरोप दूसरों पर लगाते हैं। खुद रमन सिंह जी मुख्यमंत्री रहते हुए चीन की यात्रा पर गए और अपने 15 साल के कार्यकाल में सबसे अधिक एमओयू किसी देश से किया तो वह चीन है। चीन सबसे अधिक बार जाने वाले मुख्यमंत्री के रूप में भी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम है।
प्रदेश कांग्रेस के संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह अपने अंतिम कार्यकाल में भारी भरकम टीम के साथ चीन और हांगकांग गए और वहां से 11 एमओयू करके लौटे थे। बताया गया था कि 22,000 करोड़ से भी अधिक के एमओयू हुए हैं। लेकिन इनमें से एक भी धरातल पर नहीं उतरा. वे चीनी कंपनियों को छत्तीसगढ़ लाना चाहते थे और आज उनकी पार्टी चीन को लेकर इधर उधर की बात कर रही है।
चीनी सामान के बहिष्कार की बात करने वाली भाजपा बतायें कि कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में करोड़ों की लागत में बने भाजपा कार्यालय में कितना चीनी सामान लगा हुआ है? फर्नीचर और इंटीरियर का सामान खरीदने के लिये भाजपा के तत्कालीन मंत्री राजेश मूणत, हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष सुभाष राव, सीएसआईडीसी के अध्यक्ष छगन मुंदड़ा, भाजपा नेता मनोज कोठारी, भाजपा नेता सुनील बालावी ने एक साथ चीन दौरा किया था।
शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि चीन को लाल लाल आंख दिखाने की बात करने वाले नरेंद्र मोदी भी मुख्यमंत्री रहते चार बार चीन गए और प्रधानमंत्री रहते पांच बार. यह अपने आप में एक रिकॉर्ड है. वे चीनी राष्ट्र प्रमुख को उनकी पत्नी के साथ झूला झुलाते रहे और चीन ने जब हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया, हमारे जवान मार दिए तो मोदी जी झूठ बोल रहे हैं। भाजपा को चीन से सर्वाधिक प्यार है क्योंकि वे चाहते हैं कि चीन ने जिस तरह से लोकतंत्र को स्थगित रखा है उसी तरह भारत में भी एक पार्टी का शासन स्थापित हो और लोकतंत्र की बलि चढ़ा दी जाए। लेकिन वे बात कुछ और करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *