छत्तीसगढ़ विस : वनमंत्री ने रेंजर को निलंबित करने की घोषणा की

छत्तीसगढ़
रायपुर । छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र में आज वनमंत्री ने सदन में अचनाकमा के रेंजर को निलंबित करने की घोषणा की। इस संबंध में मंत्री ने पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ को वनमंत्री ने कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। सदन में विधायक धर्मजीत सिंह ने रेंजर पर बुजुर्ग आदिवासियों से मारपीट और जेल भिजवाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की थी।
धर्मजीत सिंह ने चर्चा में कहा कि जंगल के अधिकारियों की मनमानी चल रही है। रेंजर का नाम सिंघम नाम रखे हुए हैं। 75 साल के ग्रामीणों से दुर्व्यवहार करता है। उन्होंने रेंजर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इस पर मंत्री अकबर ने धर्मजीत सिंह की बात का खंडन नहीं किया। उन्होंने कहा कि वन विभाग के इतिहास में ऐसा हुआ था कि रेंजर को कान पकड़कर उठक-बैठक कराया गया हो, जैसा निराकरण आप चाहेंगे, इसका निराकरण करेंगे।
धर्मजीत सिंह ने कहा कि महिलाओं के बाल खीचें। तो क्रिया की प्रतिकिया हुई। 20 लोग कर्फ्यू में कैसे गए, आप एक भी गाँव चले जाइए। 20 रुपये का काम खोजकर बता देंगे तो मैं सदस्यता छोड़ दूंगा। इस पर तत्काल मंत्री अकबर ने रेंजर को निलंबित करने की घोषणा। वहीं डिप्टी डायरेक्टर को हटाने की मांग पर अकबर ने कहा कि आपसे चर्चा करके वस्तुस्थिति को समझूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *