RAIPUR : घनी बस्ती के बीच खाली पड़े होटल को बन रहा कोविड हॉस्पिटल , लोगो ने किया विरोध कहा बढेगा संक्रमण का खतरा

राज्य
रायपुर । साई नगर स्थित रहेजा टावर को कोविड हॉस्पिटल बनाने के निर्णय से स्थानीय निवासियों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है। बढ़ते संक्रमितों की संख्या के चलते प्रशासन ने खाली पड़े भवनों को अस्थाई कोविड हॉस्पिटल बनाने का निर्णय लिया गया है, इसी क्रम में साई नगर स्थित एक होटल को चुना गया है।
खाली पड़े इस होटल को कोविड हॉस्पिटल बनाए जाने से साईं नगर निवासियों ने इसका विरोध करने शुरू कर दिया है। उनका कहना है कि घनी आबादी के बीच हॉस्पिटल बनाने से पूरे क्षेत्र में संक्रमण का खतरा बना रहेगा। साई नगर में करीब 3000 लोग रहते है। वहीँ जिस परिसर का चुनाव किया गया है, उसका निर्माण भी अवैध है।
नगरीय तथा ग्रामीण निवेश विभाग के निर्देशानुसार किसी भी होटल के लिए भूखंड कम से कम 10000 वर्ग फ़ीट का होना चाहिए तथा इतनी जगह होनी कि अग्निशमन वाहन आसानी से प्रवेश व निकास कर सके। नगर निगम नियमों के विपरीत रहेजा टावर का क्षेत्रफल मात्र 6000 वर्गफीट है, व इतनी जगह भी नहीं है कि कोई बड़ी गाड़ी जैसे एम्बुलेंस अथवा अग्निशमन वाहन आसानी से प्रवेश कर सके।
सबसे बड़ी बात कि आवासीय क्षेत्र में व्यावसायिक परिसर बनाने की अनुमति कैसे मिल गई। इसका नक्शा भी गलत ढंग से पास करवाया गया है। नगर निगम ज़ोन 2 के अंतर्गत इस भवन में कई गड़बड़ियां है। तंग रास्तों की वजह से एम्बुलेंस का प्रवेश भी बाधित रहने की आशंका है। और जांच करने के बाद हमे सूचना प्राप्त हुई कि कोविड हॉस्पिटल बनाने के लिए निगम द्वारा अनुमति भी प्राप्त नहीं हुई है।
क्षेत्र वासियों में इस बात को लेकर बेहद रोष है कि बिना नगर निगम ज़ोन 2 की अनुमति के इस अवैध परिसर में कोविड हॉस्पिटल का निर्माण कैसे किया जा रहा ही। अब देखना यह है कि प्रशासन इस विषय पर क्या कार्रवाई करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *