ग्रामीणों को राशि निकालने के लिए बैंकों के चक्कर लगाने से मिली मुक्ति , बैंक सखी दे रही हैं घर पहुंच सेवा

छत्तीसगढ़
रायपुर, 27 दिसम्बर 2020/ ग्रामीण विकास के लिए प्रतिबद्ध छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा गांवों के विकास और आम जन के सुविधाओं के लिए कई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं से जुड़ी राशि निकालने, पैसा ट्रान्सफर करने, जैसे कामों के लिए अब बैंकों में लंबी कतार में लगने की जरूरत नहीं पड़ती। जांजगीर-चांपा जिले में कार्यरत 190 बैंक सखियों के द्वारा दूर-दराज के क्षेत्रों में पहुंचकर ढाई से तीन करोड़ रूपये का भुगतान प्रतिमाह किया जा रहा है।
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) से  प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में काम करने वाले मजदूरों को पैसे के लिए अब बैंकों का चक्कर लगाना नहीं पड़ता। उनकी मजदूरी का भुगतान एनआरएलएम की बीसी सखी सेतु (‘सेतु’-एसएचजी -इम्पावरिंग, ट्रांसफारमिंग एण्ड अर्बनाइजिंग विलेजेस) से जुड़ी महिलाएं कार्यस्थल पर ही जाकर कर रही हैं। इसके अलावा बुजुर्ग और विधवा पेंशन का लाभ, गैस पर मिलने वाली सब्सिडी का भुगतान, जनधन खाते में आई राशि का भुगतान, टीवी का रिचार्ज से लेकर मोबाइल रिचार्ज, बिजली बिल का भुगतान एवं अन्य बैंकिंग सुविधाएं बैंक सखी सेतु के माध्यम से मुहैया कराया जा रहा है। एनआरएलएम के माध्यम से जिले के विकासखण्डों में ऑनलाइन कियोस्क लेपटाप के माध्यम से समूहों की महिलाएं बैंकिंग की सुविधाएं गांव-गांव जाकर दे रही हैं। इसके अलावा पे-प्वाइंट मोबाइल उपकरण के माध्यम से भी महिलाएं घर-घर जाकर बैंकिंग की सुविधा मुहैया करा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *