- छत्तीसगढ़

धारा 370 व 35-ए से कश्मीर की मुक्ति

रायपुर। जम्मू-कश्मीर में धारा 370 और अनुच्छेद 35-ए हटाने के साथ ही लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को केन्द्र शासित प्रदेश बनाने के निर्णय का प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने स्वागत किया है।
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने अनुच्छेद 35-ए और धारा 370 को खत्म कर देश को एकसूत्र में पिरोने का काम किया है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि देश के तत्कालीन नेतृत्व की ऐतिहासिक भूल को सुधारकर देशभर में राष्ट्रवाद का प्रखर आलोक फैलाने का ऐतिहासिक कार्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने किया है। डॉ. सिंह ने इसके लिए प्रधानमंत्री व गृह मंत्री को बधाई देते हुए कहा कि वर्षों से दबाकर रखी गई भारत-भक्तों की भावना व आकांक्षा को आज केन्द्र सरकार के फैसले ने सार्थक व साकार किया है। केन्द्र सरकार के इस फैसले से भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद जी मुखर्जी का बलिदान और पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी का एक देश, एक विधान और एक निशान का स्वप्न साकार हुआ है। भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री व सांसद सुश्री सरोज पाण्डेय ने भी केन्द्र सरकार के ऐतिहासिक निर्णय का स्वागत करते हुए इसे कोटि-कोटि भारतवासियों की देशभक्तिपूर्ण भावनाओं के प्रकटीकरण का आह्लादकारी क्षण निरूपित किया। भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद रामविचार नेताम ने कहा कि धारा 370 और 35-ए को खत्म करके केन्द्र की मोदी सरकार ने देश में अलगाववादी ताकतों पर करारी चोट की है। केन्द्र के इस निर्णय से राष्ट्रवाद की भावना और प्रबल होगी। केन्द्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख क्षेत्र की ढांचागत समस्याओं का इस फैसले से समाधान तो होगा ही, अलगाववादी और आतंकवादी ताकतें भी नेस्त-ओ-नाबूद होंगीं।
छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने केन्द्र सरकार के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार ने ऐतिहासिक कार्य किया है।

जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक भूल के रूप में कायम अनुच्छेद 35-ए और धारा 370 का पक्का समाधान किया गया है। हमारे संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी का बलिदान सार्थक हुआ और एक प्रधान-एक विधान-एक निशान की भारतीय भावना के प्रकटीकरण के साथ ही अब कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भारतीय राष्ट्रवाद की अलख गूंजेगी। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ताओं सच्चिदानंद उपासने, शिवरतन शर्मा, श्रीचंद सुन्दरानी, संजय श्रीवास्तव व भूपेन्द्र सिंह सवन्नी ने भी केन्द्र सरकार के निर्णय को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि वर्षों से पुरानी गलती को सुधार कर केन्द्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर की समस्या के सार्थक समाधान की दिशा में दृढ़ इच्छाशक्ति का परिचय दिया है। प्रदेश के सभी सांसदों रणविजय सिंह जूदेव, संतोष पाण्डेय, सुनील सोनी, विजय बघेल, मोहन मंडावी, चुन्नीलाल साहू, अरुण साव, गोमती साय व गुहाराम अजगले ने भी केन्द्र सरकार के निर्णय को भारतीय राष्ट्रवाद की जीत बताया है। महेश गागड़ा ने कहा कि केन्द्र सरकार के इस निर्णय से बिना किसी भेदभाव और दर्जे के राष्ट्रीय एकता की प्रखर भावना से समूचा देश आप्लावित होगा। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी नलिनीश ठोकने व जिला सदस्यता अभियान प्रभारी सत्यम दुवा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को बधाई दी और कहा कि इस ऐतिहासिक निर्णय से केन्द्र सरकार की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति का परिचय मिला है और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के रूप में देश को सरकार पटेल के जैसा गृह मंत्री मिला है।

About buland khabar

Read All Posts By buland khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *