- छत्तीसगढ़, राज्य

फार्मेसी के छात्रों की समस्याओं के निराकरण के लिए गंभीरता से प्रयास किए जा रहे है: प्रभारी कुलपति डॉ. आभा सिंह

रायपुर, 09 जनवरी 2019/पं. दीनदयाल उपाध्याय आयुष विश्वविद्यालय की प्रभारी कुलपति डॉ. आभा सिंह ने कहा है कि यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ फार्मेसी के छात्रों की प्रेक्टिकल परीक्षा संबंधी समस्या का गंभीरता से निराकरण के प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने बताया कि 8 जनवरी को ही प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव जी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में इस समस्या की ओर ध्यान आकृष्ट कराया गया। जिसमें स्वास्थ्य मंत्री जी ने छात्रों की समस्या को गंभीरता से लेते हुए इसका शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए है जिस पर आगे की कार्यवाही की जा रही है।
डॉ. आभा सिंह ने बताया कि यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ फार्मेसी के 74 छात्र ने 2017 नवंबर में प्रथम सेमेस्टर की पढ़ाई शुरू की थी। इनकी थ्योरी की परीक्षा जुलाई 2018 में हो चुकी है, प्रयोगशाला नही होने के कारण प्रेक्टिकल की परीक्षाएं नही हो सकी है। प्रेक्टिकल की परीक्षाओं में और देर न हो इसके लिए शासन स्तर से गंभीरता से प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने बताया कि 3 महिने पहले ही उन्होंने यहां प्रभार लिया है और चुनावी आचार संहिता के कारण आगे की कार्यवाही नही हो सकी थी अब इस दिशा में आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

About buland khabar

Read All Posts By buland khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *