- छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के पहले बजट पर प्रतिक्रियाओं का दौर जारी

रायपुरbulandkhabar09फरवरी2019  कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष और प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि 2014 के लोकसभा चुनाव के घोषणापत्र में भाजपा ने हर साल 2 करोड़ नौजवानों को रोजगार देने की बात कही थी लेकिन वह सिर्फ जुमला साबित हुआ उल्टा नोटबंदी और जीएसटी के कारण व्यापार उद्योग की गति धीमी पड़ी और कई लोग बेरोजगार हो गए। अब भूपेश बघेल की सरकार छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने हर गांव में 10 नौजवानों को रोजगार देने का बीड़ा उठाया है, छत्तीसगढ़ में दो लाख से अधिक नौजवानों को इससे सीधा रोजगार मिलेगा। मनरेगा के तहत 1500 करोड़ से अधिक के प्रावधान के द्वारा गांव के लिए रोजगार की व्यवस्था और गांव की समृद्धि का द्वार खोलने का संकल्प कांग्रेस सरकार के पहले बजट में स्पष्ट है। अब मनरेगा का कृषि मूलक कार्यो में भी उपयोग होगा। किसान, मजदूर और मजबूत बनेगा। नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी जैसी रोजगार मूलक योजना से भी गांव में लाखों लोगों को काम मिलेगा, आर्थिक समृद्धि का द्वार खुलेगा। छत्तीसगढ़ की 75 प्रतिशत आबादी अपनी आजीविका के लिए कृषि पर निर्भर करती है। प्रदेश के पहली बार 5 फूड प्रोसेसिंग यूनिट की स्थापना का निर्णय लेकर सरकार ने रोजगार के साथ कृषि उत्पादों फल, सब्जी, उत्पादक किसानों को बेहतर मूल्य दिलाने कदम उठाया है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार का बजट किसान मजदूर के लिए बेहतरीन और समृद्धि का संदेश लेकर आया है। भूपेश बघेल सरकार के किसान हितकारी, मजदूर और गांव गरीब बजट से अंततः छत्तीसगढ़ के व्यापार व्यवसाय उद्योग धंधों के प्रगति होगी। 

वर्षो से बंद पड़ी सरकारी नौकरियों विशेषकर शिक्षा, स्वास्थ्य विभाग में भर्ती प्रक्रिया शुरू करके कांग्रेस सरकार ने प्रदेश के हजारों युवाओं के लिये स्वर्णिम भविष्य गढ़ने का अवसर दिया है। किसानों की कर्जमाफी और धान का भरपूर कीमत 2500 रू. प्रतिक्विंटल मिलने से राज्य में खेती करना न सिर्फ फायदे का सौदा हो गया। किसानों की आर्थिक उन्नति से राज्य की अर्थव्यवस्था पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। प्रदेश का व्यापार और बढ़ेगा राज्य में समृद्धि और खुशहाली आयेगी। 

About buland khabar

Read All Posts By buland khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *