- छत्तीसगढ़

तूफ़ान का कहर, पेगड़ापल्ली पोटाकेबिन में बांस के स्ट्रेचर धराशाई

00 एक दिन पहले ही बच्चों को दी गई छुट्टी, नहीं तो हो सकती थी बड़ी घटना
बीजापुर (bulandkhabar)। बालक रेसिडेंशियल स्कूल पेगड़ापल्ली में आंधी तूफ ान ने ऐसा कहर मचाया कि यहां बांस के स्ट्रक्चर से बने अतिरिक्त कक्ष और बच्चों के रेसिडेंशियल कमरे गिरकर धराशाई हो गए। इससे पोटाकेबिन को करीब 2 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है।
रविवार की रात इलाके में चली तेज आंधी तूफ ान की जद में आकर भोपालपटनम तहसील के पेगड़ापल्ली में संचालित बालक रेसिडेंशियल स्कूल पोटाकेबिन में बांस स्ट्रेक्चर से बने बच्चों के रेसिडेंस और अतिरिक्त रूम हवा की मार झेल नहीं सके और गिरकर धराशाई हो गए। एक दिन पहले ही यहां अध्यनरत 353 बच्चों को गर्मी की छुट्टी देकर उन्हें घर भेजा गया है। अन्यथा एक बड़ी घटना घट सकती थी। अगस्त में भारी बारिश होने की वजह से यहां बाढ़ का पानी घुस गया था। इससे पोटाकेबिन पूरी तरह जलमग्न हो गया था और संस्था को करीब 20 से 25 लाख का नुकसान हुआ था। जिसकी राशि अब तक संस्था को नहीं मिल सकी है। डीपीसी, बसमैया और अधीक्षक नागराज पतंगी ने बताया कि हवा तूफान से संस्था में नुकसान हुआ है। वहीं बांस से निर्मित पोटाकेबिन आंधी तूफ ान को झेलने लायक नहीं रह गए है।

About buland khabar

Read All Posts By buland khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *