स्कूली बच्चों को मिल रहा सुखा राशन,जिले के 799 प्राथमिक एवं 481 पूर्व माध्यमिक शालाओं के 1लाख 79 हज़ार 483 छात्र-छात्राएं को मिलेगा लाभ

छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के निर्देश पर अवकाश अवधि में स्कूली बच्चों को मध्यान्ह भोजन दिए जाने का निर्णय लिया गया है। शासन के निर्देशानुसार जिले के स्कूलों में 3 अप्रैल से सूखा राशन का  राज्य शासन द्वारा तय की गई निर्धारित मात्रा और गुणवत्ता के अनुसार वितरण किया जा रहा है।उल्लेखनीय है कि राज्य शासन के निर्देशानुसार मध्यान्ह भोजन मार्च एवं अप्रैल 2020 के लिए 40 दिन का सूखा दाल और चावल बच्चों के पालकों को स्कूल से प्रदाय किया जा रहा है। प्राथमिक शाला के प्रत्येक बच्चे को 4 किलोग्राम चावल और 800 ग्राम दाल तथा उच्चतर माध्यमिक शाला के प्रत्येक बच्चे को 6 किलोग्राम चावल और 1200 ग्राम दाल दिया जा रहा है।
ज्ञात हो कलेक्टर डॉ एस भारतीदासन के निर्देशानुसार धरसींवा विकासखंड के अंतर्गत 221शालाओ में वितरण 30 मार्च से ही प्रारंभ कर दिया गया था।इसी तरह शेष विकासखंड एवं धरसीवा ग्रामीण क्षेत्र में  3 व 4 अप्रैल को वितरण किया गया जिले के  799 प्राथमिक एवं 481 पूर्व माध्यमिक शालाओं के 1लाख 79 हज़ार483 छात्र-छात्राओं के पालकों को सूखा मध्यान भोजन का वितरण सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए किया गया। वितरण का कार्य भोजन के स्व सहायता समूह, शिक्षक, शाला विकास समिति तथा ग्राम पंचायत के पंच सरपंच के सहयोग से पृथक पृथक स्थानों पर अलग-अलग किया गया। शाला स्तर पर पलकों को सैनिटाइजर एवं साबुन तथा 1-1 मीटर की दूरी पर निशान लगाकर कतार बद्ध तरीके से नियमों का पालन करते हुए वितरण कार्य किया गया ।अनेक स्थानों पर जनप्रतिनिधियों एवं जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा वितरण कार्य का निरीक्षण किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *