भाजपा की परिवर्तन यात्रा पहुंची पत्थलगांव हुआ भव्य स्वागत, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस सरकार पर जमकर बरसे भाजपा नेता

छत्तीसगढ़ ब्रेकिंग-न्यूज़ रायपुर

संवाददाता – आयुष अग्रवाल

पत्थलगांव । भाजपा ने दूसरे चरण की परिवर्तन यात्रा को स्व. कुमार दिलीप सिंह जूदेव की कर्मभूमि जशपुर से भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शुभारंभ किया है। इस यात्रा में हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ रही है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रणजीता स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम से इस यात्रा को हरी झंडी दिखाई थी। जिसके बाद ने शुक्रवार रात्रि कुनकुरी, कांसाबेल होते हुए भगवा रंग में रंगी बस भाजपा के नेताओं को लेकर शनिवार की रात पत्थलगांव पहुंची। आपको बता दें इस परिवर्तन यात्रा के दूसरे चरण का नेतृत्व नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल कर रहे है। उक्त यात्रा के पत्थलगांव आने से पूर्व भाजपा कार्यकर्ताओं ने जगह जगह स्वागत बैनर,पोस्टर और झंडों शहर के मुख्य द्वार को पाट दिया हुआ था। इस दौरान परिवर्तन यात्रा में भाजपा के नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, सांसद गोमती साय, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय,पूर्व सांसद रामविचार नेताम, अनुराग सिंह देव, मोती लाल साहू समेत अन्य लोग एवं जनप्रतिनिधि मौजूद रहे। वहीं आज रविवार को भाजपा मंडल पत्थलगांव के नेतृत्व मे क्षेत्र के सभी समाज प्रमुखों की बैठक रखी गई। जिसमे विभिन्न मुद्दों पर बेबाकी से लोगों अपनी बातों को रखा।

 

वहीं पत्रकारों की प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा के नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल ने कहा कि 12 सितंबर को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह दंतेवाड़ा से एक सार्वजनिक रैली के दौरान मां दंतेश्वरी का आशीर्वाद प्राप्त कर भाजपा की पहली परिवर्तन यात्रा को हरी झंडी दिखा चुके है। वहीं 16 दिवसीय प्रदेश में चल रही इस परिवर्तन यात्रा का दूसरा फेस कल जशपुर से शुरू हुआ है। जशपुर से चली यह परिवर्तन यात्रा बिलासपुर और सरगुजा संभाग में 14 दिनों में करीब 1300 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। 40 विधानसभा क्षेत्र से होकर किया है यात्रा गुजरेगी। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य के लगभग सभी जिलों में जाकर भाजपा कांग्रेस सरकार की विफलताओं को जनता के सामने रखेगी। जिससे आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रचंड बहुमत हासिल कर सरकार बनाएगी। इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य में आज कानून व्यवस्था पूरी तरह बद से बद्तर हो चुकी है। आए दिनों नए घोटाले हो रहे हैं विकास के कार्य प्रदेश में पूरी तरह से ठप है। इन सारे विषयों को लेकर परिवर्तन यात्रा के माध्यम से हम जनता के बीच जाने का प्रयास कर रहे हैं। आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में जो जन कल्याणकारी कार्य हुए हैं उन विषयों को भी इस यात्रा में बताने का प्रयास कर रहे है। 28 सितंबर को न्यायधानी बिलासपुर में यह यात्रा का समापन होगा जिसमें देश के यशस्वी प्रधानमंत्री मोदी जी मौजूद होंगे और विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे। उन्होंने बीते दिनों भिलाई के खुर्सीपार इलाके में युवक की हुई हत्या का जिक्र करते हुए कहा कि मंकित सिंह की अत्यंत ही जघन्य तरीके से हत्या हुई । और वे हत्यारे छत्तीसगढ़ की भूमि पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जिसका विरोध करने पर घटना को अंजाम दिया गया। इस तरह की घटनाएं तेजी से छग में बढ़ रही है। आमजनों को झांक जोर देने वाला यह मामला है।यह हम सभी के लिए चुनौती है समाज के लोगों को आने वाले समय में एक होकर इस प्रकार की मानसिकता रखने वालों को कुचलना का प्रयास किया जाना चाहिए। यह घटना उस जगह की है जहां मुख्यमंत्री और गृहमंत्री सहित और भी 3–3 मंत्री रहते हैं।प्रदेश में आए दिनों चोरी,डकैती,हत्या,लूटपाट,बलात्कार,फिरौती जैसे अन्य अपराधिक घटनाएं आमबात हो चुकी है। वहीं उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि सत्ता के संरक्षण में इन सभी कार्यों को अंजाम दिया जा रहा है। उन्होंने विगत दिनों से सुर्खियों में चल महादेव ऐप सट्टा बाजार के मामले का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें सत्ता पक्ष के भी जनप्रतिनिधि शामिल है।जिसमे 417 करोड़ का ईडी ने रेड किया तो मामला सामने आया। चाहे वह कोयला घोटाला, रेत घोटाला,शराब घोटाला,जमीन घोटाला,या राशन घोटाला हो। नरवा गरवा गुरुवा बारी के ड्रीम प्रोजेक्ट में 1300 करोड़ का गौठान घोटाला, और 129 करोड़ का गोबर घोटाला हो गया। यह सभी घोटाला सत्ता पक्ष के संरक्षण में हो रहा है। उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री इतने संवेदनहीन है कि बगीचा के पास हुए पहाड़ी कोरवाओ ने 4 लोगों ने जो फांसी लगाकर अपने जीवन लीला समाप्त कर ली, वह मौत भूख से हुई। उन्होंने कहा घटना के बाद घटनास्थल पर हमारे पहुंचने एक एक दिन पहले जशपुर में मुख्यमंत्री थे। मुख्यमंत्री को इतनी फुर्सत नहीं थी कि परिवार से मिल लेते और मुआवजा देते। लेकिन रायपुर से साढ़े पांच सौ किलोमीटर का सफर तय कर हम वहां पहुंचे। वहां एक हैंडपंप डेढ़ किलोमीटर है, 10 किलोमीटर दूरी पर लोग राशन लेने जाते हैं। 10 किलोमीटर दूर बच्चे पढ़ाई करने जाते हैं यह तो स्थिति वहां की है। इस विषय को लेकर हमने अविश्वास प्रस्ताव के दौरान विधानसभा में मुख्यमंत्री को भी घेरा था। इस सभी बातों को उठाया था कि उत्तर प्रदेश जाकर अपने आकाओं को खुश करने के लिए पचास लाख रुपए की घोषणा कर सकते हैं और इन पहाड़ी कोरवाओं जिनकी मौत भूख से हुई उनको पचास हजार भी नहीं दिए। और इस परिवर्तन यात्रा के माध्यम से हम सभी चीजों को उजागर कर रहे हैं क्योंकि हम जनता की अदालत में जा रहे हैं जनता की अदालत लोकतंत्र में सबसे बड़ी अदालत होती है।
वहीं रामविचार नेताम ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने बड़े-बड़े वादे किए क्षेत्र के किसानों के लिए जो बड़ी तादाद में टमाटर पैदावार करते हैं उनके लिए फैक्ट्री लगाएंगे कहीं कुछ नहीं दिख रहा। उन्होंने कहा पत्थलगांव की जनता की वर्षों पुरानी मांग रही कि पत्थलगांव को जिला बनाया जाए जो स्थानीय विधायक है वे प्रदेश के वरिष्ठ विधायक है। अन्य कई विभागों के मंत्री भी रह चुके है । जनता को आश थी की पत्थलगांव जिला बन जाएगा। मगर जिला के लिए भी ठगा गया। सरकार लोगों को ठगने,बरगलाने और भ्रमित करने में लगी हुई है, उन्होंने कहा आम जनता इस कांग्रेस सरकार से परेशान है किसी भी पंचायत में जब से सरपंच बने हैं मनरेगा छोड़िए या भारत सरकार की राशि को छोड़िए कोई भी कार्य 5 साल में नहीं कर पाए सरपंचो की हालत आज इतनी खराब है। ना सड़के ना तालाब कार्य कहीं कुछ सही नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा अगर हो रहा है तो उनके खास वर्करों के द्वारा मशीनों के माध्यम से कार्य किया जा रहा है।आज मजदूर भटक रहे हैं, और यही बात है कि हमारी यात्रा में अगर सबसे अधिक भागीदारी हो रही है तो महिलाओं और मजदूर वर्ग की हो रही है। उन्होंने कहा तेंदूपत्ता संग्रहण करने वालों को जो सुविधा भाजपा के शासनकाल में मिला करती थी। वह आज कहीं नहीं मिल रही। भ्रष्टाचार का आलम यह है कि एक-एक विभाग को गंभीरता से देखना चाहेंगे तो बिना कार्य किया ही भुगतान हो रहा है पिछले वर्ष मुख्यमंत्री को कई विधानसभा में जाने का जो कार्यक्रम बना उसमें एक-एक सर्किट हाउस और रेस्ट हाउस में रंग–रोगन करने के नाम से 50 लाख से लेकर 1 करोड़ तक पैसा निकाल लिया गया। उन्होंने कहा पूरी तरह लूट मची हुई है विधायक तो छोड़िए मंत्री तक इस धंधे में लगे हुए हैं जनहित और जनता के कार्यों से कोई मतलब नहीं है सिर्फ अपनी जेब और बिजनेस चमकाने में नया-नया रास्ता अपनाया। युवाओं को पूरी तरह से ठगने का कार्य इस सरकार द्वारा किया जा रहा है इसलिए प्रदेश में अराजकता का माहौल न हो उसे लेकर सरकार को हराने की मानसिकता जनता बना चुकी है। जैसे-जैसे यह यात्रा आगे बढ़ेगी वैसे-वैसे लोगों का पूरा रुझान इस ओर आ रहा है बड़ी संख्या में लोग भाजपा से जुड़ रहे हैं और खुलकर अपनी बातों को सामने रख रहे हैं।
वही जब पत्रकार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भारतीय जनता पार्टी से एक कद्दावर आदिवासी नेता नंद कुमार साय के बारे में पूछा कि उनके कांग्रेस में जाने के बाद भाजपा को कितना नुकसान होगा और कांग्रेस को क्या फायदा होगा। इस बात पर नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल ने कहा कि पार्टी में आने-जाने से भारतीय जनता पार्टी को किसी प्रकार का कोई भी नुकसान नहीं होता। जिसका उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि अजीत जोगी शासन काल में भाजपा के 12 विधायक कांग्रेस जॉइनिंग किए थे मगर उनके साथ भारतीय जनता पार्टी का एक भी कार्यकर्ता जॉइनिंग नहीं किया था। और उसके बाद जो विधानसभा चुनाव हुए उसमें बीजेपी ने प्रचंड बहुमत हासिल कर सरकार बनाई। इसी से यह सिद्ध होता है कि नंद कुमार साय के कांग्रेस में चले जाने से भाजपा को रत्ती भर भी नुकसान नहीं होगा आपने देखा होगा कि नंदकुमार साय ने कांग्रेस भले ही जॉइनिंग कर ली मगर उनके साथ एक भी कार्यकर्ता जॉइनिंग नहीं हुआ। पत्रकारों ने जब यह भी सवाल किया कि क्या भाजपा द्वारा पत्थलगांव को जिला बनाने को लेकर घोषणा पत्र में जारी किया जाएगा तो वहीं नारायण चंदेल ने कहा कि इस पर विचार विमर्श जरूर किया जाएगा।
वही इस दौरान भाजपा नेताओं ने पत्थलगांव के श्री श्याम मंदिर पहुंचकर भगवान श्री श्याम का आशीर्वाद लिया माथा ठेका। वही मंदिर समिति ने भाजपा नेताओं को गमछा भेंट किया। जिसके बाद उक्त परिवर्तन यात्रा अब ग्राम फुलेता से शुरू होकर आगे का रुक तय करेगी।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *